भरमाणी माता मंदिर के समीप बनेगा मिनी हेलीपैड- भरमौरी

भरमाणी माता मंदिर के समीप बनेगा मिनी हेलीपैड- भरमौरी

भरमौर

भरमौर उपमंडल के विभिन्न विकास कार्यो पर इस चालू वित्त वर्ष में 33 करोड़ 63 लाख रुपये की धनराशि खर्च होगी. वन मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी ने परियोजना सलाहकार समिति की बैठक में कहा कि विशेष केंद्रीय सहायता योजना में 86 लाख रुपये व्यय किए जा रहे हैं.

भरमौर में पुराना बस अड्डा से चौरासी मंदिर तक माल रोड शिमला की तर्ज पर स्टोन वर्क करवाया जाएगा. हेलीपैड से सचूई मार्ग को वन-वे बनाया जाएगा. इसके अतिरिक्त भरमाणी माता के लिए रोप-वे के लिए भूमि चयन व मिनी हेलीपैड भरमाणी माता मंदिर के समीप बनाने का भी निर्णय लिया गया. पट्टी-खुंड-धनछो-गौरीकुंड मार्ग के निर्माण को भी टीएसी में स्वीकृति प्रदान की गई.

वनमंत्री ने प्रशासन को आदेश देते हुए कहा कि मणिमहेश झील के ऊपरी भाग की ओर किसी भी प्रकार की आवाजाही व टैंट दुकानों को लगाने की अनुमति प्रदान न की जाए, ताकि झील की पवित्रता बनी रहे.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में जनजातीय क्षेत्रों को चहुंमुखी विकास तथा मूलभूत सुविधाओं के लिए उदारता से बजट उपलब्ध करवाया जा रहा है. बैठक में वनमंत्री ने उपस्थित विभिन्न विभागों के जिलाधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि उपमंडल स्तर पर तैनात सभी अधिकारियों का सही मार्गदर्शन कर सरकार की कल्याणकारी योजनाओं से अधिकतर लोगों को लाभांवित करवाएं.

उन्होंने भरमौर क्षेत्र में करवाए जा रहे विकास कार्यों पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि यहां की कठिन परिस्थितियों व कम कार्य अवधि के कारण अधिकारी बेहतर कार्य कर रहे हैं.

वनमंत्री ने कृषि व उद्यान विभाग के अधिकारियों को भरमौर क्षेत्र के किसानों व बागवानों को जागरूक करने व नई तकनीक से अवगत करवाने के लिए कुल्लू जिला के सेउबाग धर्मवीर धामी कृषि उद्यान फार्म में विजिट करवाने के आदेश दिए.

बैठक में जनजातीय सलाहकार परिषद सदस्य भजन ठाकुर, सुमना देवी, बीओडी वन्य प्राणी मंडल कमलेश ठाकुर, ब्लाक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष ब्रह्मानंद ठाकुर, एडीएम भरमौर विनय धीमान, एसडीएम जितेंद्र कंवर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व सदस्य मौजूद रहे.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment