वन रैंक वन पेंशन को लागू करने का वादा निभाया- पीएम मोदी

मंडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार ने वन रैंक वन पेंशन को लागू करने का वादा निभाया है. उन्होंने कहा कि इससे पहले पूर्व सैनिकों को केवल वादे ही मिलते थे. लेकिन हमने इस वादे को पूरा करके दिखाया है.

हिमाचल प्रदेश के मंडी में जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि हिमाचल देव भूमि भी है और वीर भूमि भी है. शायद ही कोई परिवार ऐसा होगा, जिसका लाल सीमा पर मां भारती की सेवा के लिए तैनात न हो. ऐसी वीरभूमि को उनको नमन करने का फिर सौभाग्य मिला है.

उन्होंने कहा कि वीरो की भूमि यह हिमाचल आन बान शान के साथ सिर ऊंचा खड़ा करके देश में आगे बढ़ रहा है. मोदी ने कहा कि काशी से लोकसभा का सांसद हूँ. काशी के लोकसभा के सांसद को छोटी काशी यानी मंडी में सिर झुकाने का अवसर मिला यह एक सौभाग्य है. उन्होंने कहा कि यहां आने से पहले मन में संकोच हो रहा था कि हिमाचल के लोगों ने बहुत प्यार दिया लेकिन मैंने यहां आने में देर कर दी.

यहां के लोग थोडे नाराज होंगे. लेकिन यहां के लोगों का दिल हिमालय जैसा बड़ा है. यहां भीड़ देखकर लोगों को उत्साह देखकर ऐसा लग रहा है कि पल भर में जैसे बर्फ पिघल गई हो और सभी गिले शिकवे भूल गए.

इसके लिए मैं यहां के लोगों को लिए नमन करता हूं. इस मौके पर उन्होंने प्रदेश सरकार पर अप्रत्यक्ष तौर पर निशाना साधा. पीएम के इस दौरे से प्रदेश के लोगों को खासा उत्साह था. लेकिन मोदी ने प्रदेश के लिए ऐसी कोई बड़ी घोषणा नहीं की.

इससे पहले मंडी पहुंचने पर मोदी का स्वागत किया गया. उन्होंने यहां 1732 मेगावाट क्षमता के तीन पनविद्युत परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित की. इनमें एनटीपीसी के 800 मेगावाट के कोल डैम, एनएचपीसी की 520 मेगावाट के पार्वती तृतीय व एसजेवीएनएल के 412 मेगावाट क्षमता के रामपुर पनविद्युत प्रोजेक्ट का शुभारंभ किया गया.

इस मौके पर राज्यपाल आचार्य देवव्रत, मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह, केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जगत प्रकाश नड्डा, केंद्रीय विद्युत, कोयला, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा एवं खान मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पीयूष गोयल, सांसद शांता कुमार, अनुराग ठाकुर, वीरेंद्र कश्यप, रामस्वरूप शर्मा सहित कई नेता मौजूद रहे.

Share With:
Rate This Article