20 साल पहले बहुत होती थी फिक्सिंग, मैं खुद बहुत मुश्किल से बचा - शोएब अख्तर

20 साल पहले बहुत होती थी फिक्सिंग, मैं खुद बहुत मुश्किल से बचा – शोएब अख्तर

शोएब अख्तर ने कहा है कि 1996 में मैच फिक्सिंग सबसे ज्यादा हुई, उस वक्त पाकिस्तान टीम के ड्रेसिंग रूम का माहौल अजीब था, शोएब के मुताबिक, फिक्सिंग के जाल से बचने में वे खुद कामयाब रहे उनका दावा है कि उन्होंने 6 साल पहले ही मोहम्मद आमिर को वॉर्निंग दी थी कि वे फिक्सिंग रैकेट से दूर रहें, लेकिन वे ऐसा कर नहीं पाए.

आमिर को मैच फिक्सिंग का दोषी मानते हुए आईसीसी ने उन पर पांच साल का बैन लगाया था, आमिर पिछले साल ही पाक टीम में लौटे हैं, शोएब ने 1996 के माहौल को लेकर दावा किया है लेकिन उन्होंने खुद टेस्ट और वनडे में डेब्यू 1997 में किया था ‘मेरी वॉर्निंग के बाद 2010 में फिक्सिंग स्कैंडल सामने आया.

शोएब अख्तर ने यह खुलासा सोमवार को पाकिस्तानी टीवी चैनल जियो के मॉर्निंग शो में किया, उन्होंने कहा- “मैंने हमेशा मैच फिक्सिंग में शामिल लोगों से दूरी बनाए रखी दूसरों को भी बचने की सलाह देता था मोहम्मद आमिर इनमें से एक थे.

मैंने उन्हें वार्निंग दी थी कि वे जिन लोगों के साथ उठते-बैठते हैं उनसे दूर रहें बाद में ये सभी 2010 में मैच फिक्सिंग स्कैंडल में फंस गए, 1996 में पाकिस्तान क्रिकेट टीम के ड्रेसिंग रूम का माहौल बहुत अजीब होता था, मेरा यकीन कीजिए, किसी ड्रेसिंग रूम का इससे ज्यादा खराब माहौल नहीं हो सकता.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment