महर्षि वाल्मीकि जयंती की पूर्व संध्या पर CM ने लगाई घोषणाओं की झड़ी

महर्षि वाल्मीकि जयंती की पूर्व संध्या पर CM ने लगाई घोषणाओं की झड़ी

जींद

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने महर्षि वाल्मीकि जयंती की पूर्व संध्या पर आयोजित राज्य स्तरीय समरसता समारोह में हरियाणा सफाई कर्मचारी आयोग का गठन करने के साथ- साथ सफाई कर्मचारियों के लिए अनेक घोषणाएं की.

सैक्टर 9 के खेल स्टेडियम में भगवान वाल्मीकि प्रकट दिवस पर आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए घोषणाएं की. इन घोषणाओं में सरकारी विभागों में अनुसूचित बैकलॉग को 6 माह में पूरा करने के लिए विशेष भर्ती अभियान चलाने, आउटसोर्सिंग के तहत की जाने वाली भर्तियों में सरकार की तर्ज पर दी जा रही आरक्षण पद्धति लागू करवाना, ग्रामीण क्षेत्रों में आगामी दो महीने में 1 हजार नये सफाई कर्मचारी भर्ती करने, सफाई कर्मचारियों को आवश्यक औजार व वर्दी उपलब्ध करवाने, सफाई कार्यों की परियोजनाओं के ठेके आंबटन में 50 प्रतिशत वाल्मीकि समुदाय के लिए आरक्षित करने, सर्वोच्च न्यायलय में चल रहे अनुसूचित जाति ए व बी के समायोजन करने के मामले की जोरदार ढंग से पैरवी करवाना है.

महर्षि वाल्मीकि जयंती की पूर्व संध्या पर CM ने लगाई घोषणाओं की झड़ी

महर्षि वाल्मीकि जयंती की पूर्व संध्या पर CM ने लगाई घोषणाओं की झड़ी

केन्द्रीय मंत्री वीरेंदर सिंह ने अनुसूचित जाति की जोरदार पैरवी करते हुए कहा कि 35% शराब के ठेके देने चाहिए और सफाई के ठेके भी देने चाहिए. इसके साथ-साथ उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों की बजाए शहरों की विधानसभा सीटे वाल्मीकि के लिए आरक्षित करनी चाहिए.

उन्होंने मुख्यमंत्री को करनाल सीट को भी आरक्षित करने का सुझाव मुख्यमंत्री को दे डाला. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री गरीबों के लिए अछि नीतिया लागु कर दे तो सभी भाजपाइयों की मौज हो जाएगी और मुख्यमंत्री के अगला चुनाव लड़ने पर भी उन्होंने अपने ही शब्दों में संशय खड़ा कर दिया.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment