बदला लेने को बेताब न्यूजीलैंड, टीम इंडिया भी है तैयार

बदला लेने को बेताब न्यूजीलैंड, टीम इंडिया भी है तैयार

शिमला

धर्मशाला क्रिकेट स्टेडियम में 16 अक्तूबर को होने वाले भारत बनाम न्यूजीलैंड एक दिवसीय पांच मैचों की सीरीज के पहले मैच के लिए शुक्रवार को दोनों टीमों ने जमकर अभ्यास किया. इस मैच में टीम इंडिया जीत के क्रम को बरकरार रखना चाहेगी, वहीं न्यूजीलैंड भी टेस्ट में हार का बदला लेने की तैयारी में है.

बृहस्पतिवार शाम धर्मशाला पहुंची दोनों टीमों ने पहले दिन रेस्ट करके दूसरे दिन मैदान में ही अधिकतर समय बिताया. सीरीज के पहले मैच को जीतने के लिए दोनों टीमों के खिलाड़ी कोई भी कसर नहीं छोड़ना चाहते. शुक्रवार सुबह के सत्र में जहां न्यूजीलैंड की टीम मैदान में अभ्यास के लिए पहुंच गई. वहीं शाम को भारतीय टीम के खिलाड़ियों ने मैदान की ओर रुख किया.

भारतीय टीम के बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे ने धर्मशाला में प्रेस वार्ता के दौरान न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम की रणनीति का खुलासा किया. उन्होंने कहा कि टीम इंडिया के खिलाड़ी वन-डे सीरीज के पहले मैच में ही विरोधी टीम पर हावी हो जाएंगे. भारत के लिए पहले मैच में जीत अति महत्वपूर्ण है. हम जानते हैं कि अगर हमने पहला मैच जीत लिया तो सीरीज जीतने में हमारा पलड़ा भारी हो जाएगा.

उन्होंने कहा कि पहला मैच जीतने के बाद टीम इंडिया का हौसला बुलंद होगा. हमें विरोधी टीम के मजबूत पक्ष पर नजरें जमाने की बजाय अपनी शक्ति पर ध्यान केंद्रित रखना चाहिए. अनुशासन का पालन करते हुए जीत की लय को बरकरार रखा जा सकता है. न्यूजीलैंड के खिलाफ होने जा रही एकदिवसीय सीरीज में टीम इंडिया का यही मूल मंत्र होगा. टीम इंडिया ने टेस्ट मैचों में 3-0 से क्लीन स्वीप कर शानदार जीत दर्ज की है. इससे टीम का मनोबल बढ़ा हुआ है.

लेकिन, यह एक अलग फॉर्मेट है और हमें नए सिरे से शुरुआत करनी होगी. टीम में नए युवा चेहरों के शामिल होने पर रहाणे ने कहा कि सभी के पास कोई न कोई मजबूत पक्ष है. टीम पूरी तरह से संतुलित है और कहीं कोई कमी नहीं लग रही. उन्होंने कहा कि वह सीनियर और जूनियर के फर्क में विश्वास नहीं रखते हैं. खेल के मैदान में हर दिन नया होता है और हर दिन कुछ नया सीखने को मिलता है. सीनियर हो या जूनियर दोनों से ही बहुत कुछ सीखने को मिलता है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment