वाराणसी में राजघाट पुल पर मची भगदड़, 24 लोगों की मौत

वाराणसी

धार्मिक नगरी वाराणसी में पुल पर मची भगदड़ में 24 लोगों की मौत हो गई है. ये हादसा राजघाट पुल पर हुआ. जय गुरुदेव के भक्त समागम के लिए जमा थे और राजघाट पुल पर भीड़ के कारण ये हादसा हुआ. मरने वालों में 20 महिलाएं 4 पुरुष हैं.

रविवार को डुमरिया में जय गुरुदेव की गद्दी पर स्थापित बाबा पंकज दास का दो दिन का सत्संग समागम होना था. इसके लिए कई शहरों के लाखों अनुयायी वाराणसी पहुंचे थे. शनिवार सुबह से ही राजघाट पुल पर गुरुदेव के अनुयायियों का पैदल मार्च चल रहा था. इससे वहां ट्रैफिक पर रोक लगा दी गई, जिससे पूरे शहर में जाम लग गया. इस बीच अचानक पड़ाव के पास भगदड़ मच गई.

खुद को बचाने की कोशिश में लोग एक-दूसरे को कुचलकर आगे बढ़ने लगे, जिससे 24 लोगों की मौत हो गई. मौके पर बचाव और राहत कार्य जारी है. घायलों को नजदीकी अस्पताल पहुंचाया जा रहा है.

अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) दलजीत चौधरी ने लखनउ में बताया कि राजघाट पुल काफी संकरा है और गर्मी और घुटन की वजह से पुल पर एक व्यक्ति की मौत के बाद भगदड़ मची थी, जिससे इतना बड़ा हादसा हो गया. उन्होंने बताया कि बाबा जयगुरदेव संस्थान ने जितनी भीड़ का अनुमान लगाकर आयोजन की अनुमति ली थी, उससे कई गुना ज्यादा भीड़ एकत्र हो गई थी.

यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने हादसे में मृतकों के परिवार के लोगों के लिए 5-5 लाख रुपये के मुआवजे की घोषणा की है. गंभीर रूप से घायलों के लिए यूपी सरकार ने 50-50 हजार रुपये की मदद का ऐलान किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से मृतकों के परिजनों को 2 लाख और घायलों को 50 हजार रुपये देने की घोषणा की है.

वाराणसी रेंज के आईजी एसके भगत ने कहा कि पुल पर भीड़ ज्यादा होने पर हादसा हुआ. 3000 लोगों की अनुमति थी, जबकि ज्यादा लोग पहुंचे थे. रास्ता भी बेहद सकरा था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक जताते हुए मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. पीएम ने घायलों के लिए प्रार्थना भी की है. पीएम ने संबंधित अधिकारियों से भी बात की है और हरसंभव मदद का भरोसा दिया है.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी शोक जताते हुए पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की, वहीं कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने घटना पर हैरानी और दुखी जताया साथ ही पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट की.

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी शोक जताते हुए जानकारी दी कि उन्होंने वाराणसी के कमिश्नर से बात कर हालात की जानकारी ली और प्रभावित लोगों को हरसंभव मदद करने का आश्वासन दिया.

Share With:
Rate This Article