भारत और रूस के बीच बंद कमरे में 39 हजार करोड़ के रक्षा सौदे पर लगेगी मुहर

भारत और रूस के बीच बंद कमरे में 39 हजार करोड़ के रक्षा सौदे पर लगेगी मुहर

दिल्ली

भारत के साथ रूस जल्द ही S-400 एंटी मिसाइल डिफेंस सिस्टम की 39 हजार करोड़ की डील फाइनल करेगा. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन आज गोवा में ब्रिक्स समिट के लिए पहुंचेंगे.

इससे इतर शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे. उसी दिन 39 हजार करोड़ रुपए वाली इस डील पर दस्तखत किए जा सकते हैं. यह एंटी मिसाइल डिफेंस सिस्टम 400 किमी की दूरी से आ रहे दुश्मनों के विमान, मिसाइलों और ड्रोन को एक साथ ट्रैक कर सकेगा.

अंग्रेजी अखबार ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ के मुताबिक रूस की सरकारी मीडिया की ओर से गुरुवार को प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक रूसी राष्ट्रपति पुतिन की पीएम मोदी के साथ होने वाली वार्षिक शिखर वार्ता के बाद कई अहम रक्षा समझौतों पर हस्ताक्षर किए जाएंगे.

भारत और रूस के बीच बंद कमरे में 39 हजार करोड़ के रक्षा सौदे पर लगेगी मुहर

भारत और रूस के बीच बंद कमरे में 39 हजार करोड़ के रक्षा सौदे पर लगेगी मुहर

भारत और रूस के बीच ‘मेक इन इंडिया’ के तहत एक बिलियन डॉलर के काफी दिनों से लंबित पड़े 200 कामोव 226 हल्के हेलीकॉप्टर के संयुक्त उत्पादन के समझौते पर भी हस्ताक्षर होंगे.

ब्रिक्स सम्मेलन में शामिल होने गोवा आ रहे रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच सपात्हांत में S-400 डील, और हेलीकॉप्टर के संयुक्त उत्पादन के समझौते को आखिरी रूप दिया जाएगा.

S-400 सिस्टम में अलग-अलग क्षमताओं वाली तीन तरह की मिसाइल हैं. जो सुपरसोनिक और हाइपरसोनिक स्पीड से उड़ कर दुनिया में जमीन से हवा में मार करने वाला सबसे आधुनिक मिसाइल सिस्‍टम माना जाता है.

S-400, 400 किलोमीटर की रेंज में आने वाले विमानों और मिसाइलों को निशाना बना सकता है. अगर भारत यह डील साइन करता है तो वह चीन के बाद ऐसा सिस्टम खरीदने वाला दूसरा देश होगा.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment