यूनीफॉर्म सिविल कोड पर केंद्र सरकार का विरोध करेगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

यूनीफॉर्म सिविल कोड पर केंद्र सरकार का विरोध करेगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

दिल्ली

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के महासचिव मौलाना मोहम्मद वली रहमानी ने ट्रिपल तलाक के मुद्दे पर गुरुवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि ‘वह यूनिफार्म सिविल कोड लाकर देश को तोड़ने की कोशिश कर रहे है. ट्रिपल तलाक पर सरकार का विरोध गलत है.’

यूनीफॉर्म सिविल कोड पर केंद्र सरकार का विरोध करेगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

यूनीफॉर्म सिविल कोड पर केंद्र सरकार का विरोध करेगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड- मौलाना मोहम्मद वली रहमानी

इतना ही नहीं मौलाना रहमानी ने ये भी कहा कि भारत जैसे विविधता में एकता वाले देश के लिए यूनिफार्म सिविल कोड कतई मुनासिब नहीं है. यहां अलग-अलग धर्म के लोग रहते हैं, सभी लोग एक संविधान के मुताबिक रह रहे हैं. सरकार इसको तोड़ने की कोशिश कर रही है.

मौलाना रहमानी ने सरकार पर हमला करते हुए कहा कि जिस अमेरिका की यहां जय की जाती है, वहां भी अलग-अलग स्टेट का अपना पर्सनल लॉ है. अलग-अलग आइडेंटिटी है. हमारी सरकार वैसे तो अमेरिका की पिछलग्गू है लेकिन इस मुद्दे पर उसको फॉलो नहीं करना चाहती. उन्होंने ये भी कहा कि पंडित जवाहर लाल नेहरू बड़े दिल के आदमी थे. इसलिए उन्होंने अलग-अलग ट्राइब्स के लिए संविधान में अलग-अलग प्रावधान रखवाया है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment