हिमाचल की पंचायतों में अब रफ्तार पकड़ेंगे विकास कार्य

हिमाचल की पंचायतों में अब रफ्तार पकड़ेंगे विकास कार्य

शिमला

हिमाचल की 3226 पंचायतों में अब विकास कार्य रफ्तार पकड़ेंगे. केंद्र सरकार ने 14वें वित्तायोग में हिमाचल सरकार को 135 करोड़, 28 लाख की तीसरी किस्त जारी कर दी है. सरकार ने पंचायतों को जिलावार राशि का आवंटन कर दिया है. कांगड़ा जिले को सर्वाधिक 28 करोड़, 76 लाख 87 हजार 833 रुपये जारी किए हैं.

किन्नौर जिले को सबसे कम 3 करोड़ 28 लाख 23 हजार 586 रुपये की राशि दी गई है. जिला मुख्यालयों से अब यह राशि पंचायतों को जारी होगी. पंचायतीराज विभाग के निदेशक आर सेलवम ने इसकी पुष्टि की है. इससे पहले केंद्र सरकार ने हिमाचल को दो किस्तें जारी की थीं.

पहली किस्त में प्रदेश को 97.95 करोड़, जबकि दूसरी किस्त में 97.69 करोड़ जारी किए थे. केंद्र की गाइडलाइंस के मुताबिक इस पैसे को रास्तों के निर्माण, वर्षाशालिका, श्मशानघाट, सामुदायिक भवन, स्ट्रीट लाइटें, नालियों के निर्माण, सड़क, रास्तों में रेलिंग, डंगों के निर्माण और पैरापिट आदि कार्यों में खर्चा जाना है.

प्रदेश सरकार ने पंचायतों की सभी शेल्फों को एक साथ मंजूरी दे दी है. पहले ये शेल्फें बीडीओ और जिला वित्त कमेटी के पास फंसी थीं. औपचारिकताएं पूरी न होने से इन्हें स्वीकृति नहीं मिल रही थी. सोलन जिले को छोड़कर अन्य जिलों की पंचायतें इसी फेर में फंसी थीं.

बिलासपुर – 7, 38, 49,267, चंबा – 11, 24,15,918, हमीरपुर- 8,69,65,353, कुल्लू – 9,31,41,259, कांगड़ा – 28,76,87,833, मंडी – 19,21, 09,818, शिमला – 13, 58,53,637, सिरमौर – 9,95,17,222, सोलन – 9,94,67,679, ऊना – 9,77,95,845, किन्नौर – 3,28,23,586 और लाहौल-स्पीति – 4,10,83,583 करोड़ की राशि जारी की गई है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment