attck on parliment

सर्जिकल स्ट्राइक से तिलमिलाया पाक, संसद पर हमला हो सकता है- सूत्र

दिल्ली

भारत के सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से पाकिस्तान तिलमिला गया है, वो किसी भी सूरत में इस बेइज्जती का बदला लेना चाहता है बदले को अंजाम देने के लिए पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने जैश-ए-मोहम्मद को किसी भी हद तक जाने को कहा है.

एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, आईएसआई के इस नापाक मंसूबे को अंजाम देने के लिए पाकिस्तान में आतंकी कैंप चला रहा जैश-ए-मोहम्मद का सरगना मौलाना मसूद अजहर साजिश रच रहा है, 2001 में जैश के ही आतंकी अफजल गुरु ने संसद को निशाना बना हमला किया था.

अखबार ने सुरक्षाबलों के अपने भरोसेमंद सूत्रों के हवाले से बताया कि खुफिया एजेंसी और जम्मू-कश्मीर के सीआईडी ने जैश की इस साजिश के बारे में आगाह किया है, जैश एक बार फिर संसद को निशाना बनाने के लिए हर संभव कोशिश में लगा है.

खुफिया एजेंसियों को ये भी पता चला है कि जैश के फिदायीन संसद पर हमला करने में नाकाम साबित होते हैं तो वे फिर दिल्ली सचिवालय पर हमला करेंगे, इतना ही नहीं आतंकियों की लिस्ट में अक्षरधाम मंदिर और लोटस टेंपल भी शामिल है.

जैश आकाओं का निर्देश है कि अगर किसी मशहूर जगह पर हमला न हो पाया तो भीड़भाड़ वाली जगह को निशाना बनाया जाए, मसलन बाजार या शॉपिंग मॉल,भारत की खुफिया एजेंसियों ने इस बारे में सम्बन्धित अधिकारियों को आगाह कर दिया है और ऐसी किसी भी कोशिश को नाकाम करने की तैयारी है.

सूत्रों के मुताबिक आम आदमी पार्टी के विधायक भगवंत मान के संसद परिसर में बनाए विडियो वायरल होने के बाद संसद में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की गई थी, किसी गड़बड़ी की आशंका से अब एक बार संसद परिसर में सुरक्षा व्यवस्था की पड़ताल की जा रही है। पिछले हफ्ते दो फिदायीनों के दिल्ली की तरफ आने की खबर आई थी.

सूत्रों ने दावा किया था कि ये फिदायीन सेबों से भरी एक ट्रक में बैठकर दिल्ली की एक होलसेल मार्केट का रुख कर रहे हैं, फिलहाल खुफिया एजेंसियां यह तय नहीं कर पा रही हैं कि ये दोनों किसी हमले को अंजाम देने के मकसद से तो दिल्ली नहीं आए, ट्रक का ड्राइवर दक्षिण कश्मीर के कुलगाम से है,रिपोर्ट्स के मुताबिक दोनों फिदायीनों के पास खतरनाक हथियार भी हैं.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment