पंचायतें शिक्षित हुईं, अब सक्षम करेंगे: धनखड़

रोहतक

हरियाणा के विकास एवं पंचायत मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा कि प्रदेश में अब पंचायतें शिक्षित हो गई हैं और उन्हें सक्षम करने के लिए विभिन्न विश्वविद्यालयों के माध्यम से 3 महीने के सर्टीफिकेट कोर्स करवाए जाएंगे. धनखड़ रविवार को स्वतंत्रता सेनानी स्वामी आत्मानंद महाराज की स्मृति में आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे.

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के प्रयासों से प्रदेश की पंचायतों में शिक्षित युवा आए हैं. पंचायत में महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण था लेकिन प्रदेश में 43 प्रतिशत महिलाएं पंचायतों में चुनी गई हैं. यही नहीं अनूसूचित जाति के लिए 20 प्रतिशत आरक्षण था और 27 प्रतिशत लोग चुनकर आए हैं.

प्रदेश में 61 प्रतिशत लोग पंचायतों के लिए सर्वसम्मति से चुने गए हैं जोकि वल्र्ड रिकार्ड है. उन्होंने कहा कि सरकार ने महॢष दयानंद विश्वविद्यालय, गुरु जम्भेश्वर विश्वविद्यालय हिसार, भगत फूल सिंह महिला विश्वविद्यालय खानपूर कलां और कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र का चयन किया है जहां से पंचायत प्रतिनिधियों को 3 महीने का सर्टीफिकेट कोर्स करवाया जाएगा.

इस दौरान उन्हें पूरा प्रशिक्षण दिया जाएगा जिससे उन्हें अपने अधिकारों और कत्र्तव्य की पूरी जानकारी मिलेगी और साथ ही वे अपने क्षेत्र के विकास के लिए कार्य कर पाएंगे. उन्होंने कहा कि प्रदेश में फसलों की खरीद समर्थन मूल्य पर ही हो रही है और अब प्रक्रिया में पूरी पारदॢशता है.
अगर फसल में नमी 22 प्रतिशत है तो उस स्थिति में भी किसान की 86.85 रुपए से ज्यादा कटौती नहीं की जा सकती. अगर कहीं पर किसान की फसल को नुक्सान पहुंचा है तो कार्रवाई करते हुए किसान के नुक्सान की भरपाई करवाई जाएगी.

उन्होंने कहा कि आज सभी लोग प्रण लें कि वे अपने घरों मे शौचालय बनवाएंगे और उनका प्रयोग भी करेंगे. इस अवसर पर भाजपा अनूसूचित जाति प्रकोष्ठ के अध्यक्ष रामअवतार वाल्मीकि, प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य रमेश भाटिया, जिलाध्यक्ष अजय बंसल, पूनम बुरा, पदम ढुल, सतेंद्र सोलंकी, अशोक सरपंच, जोगेंद्र व नवीन खिरावड़ आदि मौजूद रहे.

Share With:
Rate This Article