सर्जिकल स्ट्राइक से लश्कर-ए-तैयबा को सबसे ज्यादा नुकसान- रिपोर्ट

सर्जिकल स्ट्राइक से लश्कर-ए-तैयबा को सबसे ज्यादा नुकसान- रिपोर्ट

दिल्ली

भारतीय सेना द्वारा नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पार आतंकी ठिकानों पर किए गए सर्जिकल स्ट्राइक में पाकिस्तान आधारित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा को भारी नुकसान पहुंचा है. खुफिया एजेंसियों द्वारा पकड़ी गई बातचीत संबंधित आकलन रिपोर्ट के मुताबिक लश्कर के लगभग 20 आतंकवादी मारे गए हैं.

भारतीय सेना की फील्ड रिपोर्टिंग से खुलासा हुआ है कि सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तानी सेना और आईएसआई ने कश्मीर घाटी में आतंकियों के फंड में बढ़ोतरी कर दी है. ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि PoK के दुदनियाल लॉन्च पैड पर सर्जिकल स्ट्राइक से लश्कर को भारी नुकसान हुआ है. वहीं हाल के घुसपैठों में 125 आतंकी मारे जा चुके हैं.

खुफिया एजेंसी के मुताबिक, हाल के दिनों में आतंकियों का पुलिस स्टेशन को निशाना बनाना और हथियार छीनने की घटनाओं को इसलिए अंजाम दिया जा रहा है, ताकि यह साबित हो सके कि सेना की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भी कश्मीर में आतंकी गतिविधियां और आतंकी बरकरार हैं.

सूत्रों के मुताबिक भारतीय सेना की फील्ड यूनिटों से उपलब्ध आकलन रिपोर्ट में कई पाकिस्तानी प्रतिष्ठानों के बीच हुई रेडियो बातचीत शामिल है. इससे पता चला है कि उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा सेक्टर के सामने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर स्थित दुदनियाल आतंकी शिविर में लश्कर-ए-तैयबा को अधिकतम नुकसान पहुंचा.

गत 28 और 29 सितंबर की रात को शुरू हुए ऑपरेशन में भारतीय सैनिक नियंत्रण रेखा के पार पहुंचे और एलओसी से 700 मीटर की दूरी पर स्थित एक पाकिस्तानी चौकी की सुरक्षा में स्थित चार आतंकी ठिकानों को नष्ट कर दिया.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment