ब्रिक्स समिट में मिलेंगे मोदी-जिनपिंग, भारत उठाएगा अजहर मसूद पर बैन का मामला

ब्रिक्स समिट में मिलेंगे मोदी-जिनपिंग, भारत उठाएगा अजहर मसूद पर बैन का मामला

दिल्ली

गोवा में होने वाले ब्रिक्स सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच होने वाली मुलाकात में आतंकवाद एक अहम मुद्दा होगा. प्रधानमंत्री मोदी आतंकवाद पर जीरो टॉलरेंस की नीति पर चीन के राष्ट्रपति से बातचीत करेंगे.

दोनों की मुलाकात 15-16 अक्टूबर को हो सकती है. पीएम मोदी मसूद अजहर पर बैन लगाने की बात जिनपिंग से करेंगे.

भारत दुनिया भर में आतंकवाद का मुद्दा उठाता रहा है. इसके अलावा यूएन में भारत ने आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के चीफ मौलाना मसूद अजहर को आतंकी घोषित करने की कोशिश भी की है.

लेकिन चीन ने हमेशा पाकिस्तान के कहने पर मसूद अजहर के मामले पर अपने वीटों का इस्तेमाल किया है. ऐसे में दोनों देशों के नेताओं के बीच इस पर अहम चर्चा होगी.

मुलाकात का एजेंडा पहले ही तैयार किया जा चुका है. पिछले महीने आतंकवाद से जुड़े मुद्दे पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और चीन के स्टेट काउंसिलर डाय बिनगुओ के बीच मुलाकात हुई थी.

जिसमें भारत ने आतंकवाद से जुड़ी चिंताओं को रखा था और पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले में पाकिस्तान का हाथ होने के सबूत भी पेश किए थे. पठानकोट हमले में सात सुरक्षाकर्मी और उड़ी में हुए आतंकी हमले में 19 जवान शहीद हो गए थे.

भारत के पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद चीन ब्रह्मपुत्र नदी के सहायक नदियों में एक को सर्वाधिक खर्चीले जलविद्युत परियोजना के निर्माण के लिए रोक रहा है. इस पर भी दोनों देशों के बीच अहम चर्चा हो सकती है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment