faasi-mh1-mhone

लॉ की छात्रा ने पीजी में फांसी लगाकर की आत्महत्या

रोहतक

कैलाश कॉलोनी के एक पीजी में लॉ द्वितिय वर्ष की छात्रा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. लड़की दिल्ली के पालम की रहने वाली थी. पीजी की संचालिका ने घटना की सुचना पुलिस और परिजनों को दी. जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव को नीचे उतारा और पोस्टमार्टम के लिए पीजीआई भेज दिया. अभी तक आत्महत्या के कारण का खुलासा नहीं हुआ है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच जुटी हुई है.

दिल्ली के पालम की रहने वाली कविता रोहतक के एक निजि कॉलेज में लॉ द्वितिय वर्ष की छात्रा थी और कॉलेज से कैलाश कालोनी स्थित अपने पीजी में लौटी और अपने कमरे में चली गई. कविता के पिता ने फोन किया तो फोन नहीं उठाया. जिसके बाद पीजी की संचालिका सुनील के पास कविता के पिता ने फोन किया.

संचालिका ने कविता के कमरे के बाहर जाकर आवाज लगाई लेकिन अंदर से कोई आवाज नहीं आई. जिसके बाद कमरे में झांक कर देखा तो कविता कमरे के पंखे से बंधे फंदे से लटकी हुई थी. जिसकी सुचना पुलिस को दी गई. संचालिका सुनील ने बताया कि कवित पढाई में काफी हाशियार थी और वह कभी परेशान भी नहीं दिखाई दी. अब इस हादसे के पीछे क्या कारण है वह कहा नहीं जा सकता.

सिविल लाईन थाना प्रभारी रमेश कुमार और एफएसएल टीम मौके पर पहुंची और शव को नीचे उतार कर जांच पड़ताल की. मौके से कोई सुसाईड नोट नहीं मिला. अभी तक ऐसा कोई भी कारण सामने नहीं आया है, जिसकी वजह आत्महत्या मानी जा सके. फिलहाल पीजी संचालक व परिजनों से पुछताछ कर बयान दर्ज किए जा रहे हैं और शव को पोस्टमार्टम के लिए रोहतक पीजीआई भेज दिया गया.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment