dead-mh1-mhone

दादरी मामले के आरोपी की जेल में मौत, परिवार वालों का जेल प्रशासन पर आरोप

दिल्ली

चर्चित दादरी मामले के एक आरोपी रवि की मंगलवार को यहां के एक अस्पताल में मौत हो गई. वह इस मामले को लेकर जेल में बंद था. परिवार का आरोप है कि उसकी मौत पिटाई की वजह से हुई है. इसकी जांच होनी चाहिए.

कुछ दिन पहले उसका अन्य कैदियों से झगड़ा हो गया था जिसके बाद जेल प्रशासन ने उसकी पिटाई की गई थी. वहीं दूसरी ओर, अस्पताल की ओर से जानकारी दी गई कि 22 वर्षीय रवि के गुर्दों ने काम करना बंद कर दिया था जिससे रवि की मौत हुई है.

एलएनजेपी अस्पताल के मेडिकल सुपरिन्टेन्डेन्ट डॉ जे सी पासी ने बताया ‘‘ रवि को मंगलवार दोपहर करीब 12 बजे यहां बहुत बुरी अवस्था में लाया गया था. उसके गुर्दे काम नहीं कर रहे थे, ब्लड शुगर का स्तर अत्यधिक था.

शाम सात बजे उसकी मौत हो गई.’ उन्होंने बताया कि रवि के गुर्दे और श्वांस तंत्र काम नहीं कर रहे थे. रवि गौतम बुद्ध नगर जिले में जेल में बंद था. जरचा पुलिस थाने के प्रभारी प्रदीप कुमार सिंह ने बताया ‘‘रवि को मंगलवार सुबह जेल से नोयडा में जिला अस्पताल ले जाया गया. फिर हालत बिगडने पर उसे दिल्ली के अस्पताल लाया गया.’ यह आशंका भी है कि रवि को डेंगू था.

बहरहाल अस्पताल के अधिकारी कहते हैं ‘‘चिकित्सा रिपोर्ट का इंतजार है.’ आपको बता दें कि दादरी के बिसहडा गांव में 51 वर्षीय मोहम्मद अखलाक को पिछले साल भीड ने पीट-पीट कर कथित तौर पर मार डाला था जिसके बाद क्षेत्र में सांप्रदायिक तनाव हो गया था. भीड को संदेह था कि अखलाक गौमांस का सेवन करता है.

Share With:
Rate This Article