bana-mh1-mhone

परमवीर चक्र विजेता ने कहा,’पीएम कहें तो पैदल पाक जाकर आतंकियों की गर्दन काटने को भी तैयार’

परमवीर चक्र विजेता कैप्टन बाना सिंह उड़ी हमले को लेकर काफी गुस्से में हैं। उनका कहना है कि यदि ऐसे ही चलता रहा तो देश नहीं बचेगा। अब बात नरमी से नहीं बनेगी। सरकार के ढीले रवैये के कारण इस प्रकार की घटनाएं हो रहीं हैं। सरकार को अपनी दोहरी नीति बदलनी होगी।

पाकिस्तान सीमा से तीन किलोमीटर दूर अंतरराष्ट्रीय सीमा पर कत्याल गांव के रहने वाले बाना सिंह कहते हैं कि आतंकियों ने फिदायीन हमले का प्लान पहले से बना रखा होगा। एक आतंकी ही कई जवानों को मार सकता था क्योंकि वह पूरी तरह लैस होकर मरने की नीयत से पहुंचा था। उनके पास पूरी सूचना थी कि यूनिट का चार्ज बदलने वाला है। ऐसे में हमला करना आसान होगा।

उन्होंने कहा कि भारत तो पड़ोसी के साथ दोस्ती रखना चाहता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसके लिए प्रयास भी किए और पाकिस्तान तक चले गए। लेकिन, लगता है कि वह दोस्ती की भाषा नहीं समझना चाहता है। उसके साथ सख्ती की जानी चाहिए। इसके लिए चाहे जो कदम उठाना पड़ें।

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment