meeting-mh1-mhone

अब पाकिस्तान को हर मोर्चे पर जवाब देने की तैयारी में है भारत

भारतीय सेना ने उरी में आतंकी हमले को लेकर पाकिस्तान को परोक्ष रूप से कड़ी चेतावनी दी है। सेना ने कहा कि इस हमले का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। यह जवाब कब और कहां देना है, यह भारतीय सेना खुद तय करेगी।

डीजीएमओ लेफ्निेंट जनरल रनबीर सिंह ने एक बयान में कहा कि सेना ने आतंकी स्थितियों का सख्ती का मुकाबला मुकाबला किया है। भारतीय सेना हर तरह से आतंक से निपटने में सक्षम है। इसलिए आतंक की हर हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। यह अधिकार भारतीय सेना के पास है कि वह कब और कहां इसका जवाब देती है।

सिंह ने कहा कि सोमवार शाम तक उरी में सेना ने सर्च अभियान पूरा कर लिया है। पूरे क्षेत्र की जांच कर ली गई है। इसके साथ ही यह आपरेशन पूरा हो गया है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में पिछले तीन-चार सालों की तुलना में इस साल घुसपैठ के मामले बढ़ रहे हैं। इस साल सेना ने नियंत्रण रेखा पर घुसपैठ की 17 कोशिशों को नाकाम किया है।

सिंह के अनुसार सेना ने इस साल जम्मू-कश्मीर में 110 आतंकियों का सफाया किया। इनमें से 31 को उस समय मारा गया जब वे सीमा पर घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे। इसी प्रकार 11 सितंबर को पुंछ और 18 सितंबर को उरी में सैन्य शिविरों पर आतंकी हमले हुए। दोनों हमलों में सेना ने चार-चार आतंकियों को मार गिराया।

सिंह ने कहा कि उरी हमले में मारे गए चार पाकिस्तानी आतंकियों के कब्जे से दो रेडियो सैट और दो जीपीएस तथा दो नक्शे तथा दो मैट्रिक्स सीट भी जब्त की गई हैं। इसके अलावा चार ए. के.-47 राइफलें, चार अंडर बैरल ग्रेनेड लांचर, पांच हैंड ग्रेनेड तथा एक मोबाइल फोन जब्त किया गया है। उन्होंने कहा कि आतंकियों के कब्जे से जो दवाएं एवं खाद्य पदार्थ प्राप्त हुए हैं, उन पर पाकिस्तानी मार्किंग थी।

Share With:
Rate This Article