kushal-mh1-mhone

डीयू छात्र को नहीं पढ़ने को ‌मिली थी गिनीज बुक, तब ही ठान लिया था बुक में दर्ज कराएगा अपना नाम

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड पढ़ने के लिए नहीं मिलने पर डीयू के छात्र कुशाग्र तायल ने स्कूल में इस बुक में अपना नाम शामिल करने की जो ठानी वह बीते 17 सितंबर को पूरा कर डाला।

कुशाग्र ने 56,980 प्लास्टिक कप से 22 फुट ऊंची मीनार बनाकर अपना नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया। इससे पहले यह रिकार्ड मैक्सिको के नाम था।

कुशाग्र ने बताया कि वह डीयू के हंसराज कॉलेज में इकॉनोमिक्स ऑनर्स के सेकेंड ईयर का स्टूडेंट है। उन्होंने दोस्तों के साथ बीते 14 सितंबर को त्यागराज स्टेडियम में मीनार की शुरुआत की और कुल 56,980 कप के साथ नया रिकॉर्ड बनाया।

इससे पहले मैक्सिको ने इसे 42,925 कप से मीनार बनाकर रिकॉर्ड बनाया था। अपनी खुशी जाहिर करते हुए कुशाग्र ने कहा कि जब पुराने रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा तो वह हमारे लिए बेहतरीन पल था।

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment