badal-mh1-mhone

बादल के तीखे बोल, ताश के पत्तों जैसी ‘आप’, कांग्रेस को भी न छोड़ा

मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने कांग्रेस और आम आदमी पार्टी को पंजाब विरोधी बताते हुए साफ किया कि दोनों पार्टियों की परछाई भी पंजाब के लिए अच्छी नहीं है। बादल शुक्रवार को छपार मेले में आयोजित शिअद की राजनीतिक कांफ्रेंस में बोल रहे थे। सीएम ने कहा कि दोनों ही पार्टियां पंजाब और जनता के लिए हानिकारक हैं। इन पार्टियों के नेताओं को सूबे के लोगों से कोई हमदर्दी नहीं है, ये पंजाब विरोधी पार्टियां हैं। बादल ने लोगों को आगाह किया कि वे इन दोनों पार्टियों से सावधान रहें।

सीएम ने कहा कि लोकसभा चुनाव सूबे का भविष्य तय करेंगे। इन चुनावों में शिअद का मुकाबला पंजाब विरोधी कांग्रेस और आप से होगा। यदि पंजाब के लोगों ने अकाली भाजपा गठजोड़ को फिर से चुना तो सूबे के विकास को नई दिशा मिलेगी। बादल ने कहा कि कांग्रेस ने लोगों के सामाजिक, राजनीतिक, आर्थिक और धार्मिक मामलों में बेवजह दखलंदाजी की है। कांग्रेस के नेतृत्व वाली अब तक की सरकारों ने जानबूझ कर सूबे को पंजाबी बोलते इलाके और राजधानी चंडीगढ़ नहीं दिए। सूबे के पानी पर अधिकार भी नहीं दिया। कोई भी पंजाबी ब्लू स्टार आपरेशन को नहीं भूल सकता। सीएम ने पंजाब से पानी के अधिकार छीनने को कांग्रेस की साजिश करार दिया।

आम आदमी पार्टी के बारे में बादल ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने एसवाईएल मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में पंजाब के हितों के खिलाफ हलफनामा देकर यह साबित कर दिया है कि आप पंजाब विरोधी पार्टी है। आप नेता विरोध की राजनीति में विश्वास रखते हैं। यदि इनको सत्ता में आने का अवसर मिल गया तो किसान की फसल मंडियों में भटकेगी और केंद्र के साथ इनकी तनातनी भी रहेगी।
सीएम ने कहा कि आम आदमी पार्टी ताश के पत्तों की तरह है। चुनावों से पहले पूरी तरह से बिखर जाएगी। आप नेताओं का न कोई किरदार है और न ही विचारधारा। इस पार्टी का नेतृत्व गैर पंजाबी लोगों के हाथ में है, जो पंजाब के नेताओं का उपयोग करने के बाद उनको निकालने में विश्वास रखते हैं।

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment