dhavan-mh1-mhone

ये हुई ना ‘गब्बर’ वाली बात, पढ़ें ऐसा क्या बोल गए शिखर धवन…

कोई भी क्रिकेटर चाहता है कि उसकी जगह टीम में फिक्स हो जाए और उसे किसी से चुनौती ना मिले, लेकिन टीम इंडिया के ‘गब्बर’ शिखर धवन की सोच इससे थोड़ी अलग है। बुधवार को उन्होंने कहा कि यह अच्छी बात है कि टीम इंडिया के पास तीन सलामी बल्लेबाजों का विकल्प है।

धवन ने कहा, ‘मैं इस बात से वाकिफ हूं कि पारी का आगाज करने वाले दो स्थानों के लिए तीन खिलाड़ी हो सकते हैं। बल्कि यह भारतीय क्रिकेट के लिए अच्छा है। भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए और खेल में खिलाड़ियों के बीच स्वस्थ प्रतिस्पर्धा होना अच्छा है। राहुल ने हालिया समय में सिर्फ टेस्ट मैचों में ही नहीं बल्कि टी20 क्रिकेट में भी अच्छा प्रदर्शन किया है।’

धवन ने कहा कि प्लेइंग इलेवन से बाहर रखा जाना हमेशा निराशाजनक होता है लेकिन यह आपकी वापसी के लिए प्रेरणा का भी काम करता हैं धवन को पोर्ट ऑफ स्पेन में वेस्टइंडीज के खिलाफ चौथे टेस्ट की टीम से बाहर कर दिया गया था।

उन्होंने कहा, ‘मैं निश्चित रूप से दुखी होता हूं लेकिन यह प्रेरणा की तरह काम करता है। जब मैं भारतीय टी-20 टीम से बाहर हुआ था तब भी मुझे बुरा लगा था लेकिन साथ ही मुझे टीम में अच्छा करने और वापसी करने की प्रेरणा मिली।’

Share With:
Rate This Article