bluchistan-mh1-mhone

बलूचिस्तान की आजादी से अमेरिका ने खींचा हाथ, कहा- नहीं करता समर्थन

पाकिस्तान के बलूचिस्तान का मामला गंभीर होता जा रहा है। एक ओर जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बलूचिस्तान की आजादी का समर्थन किया है तो वहीं अमेरिका इससे हाथ खींचता नजर आ रहा है। अमेरिकी विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा है कि अमेरिका पाकिस्तान की एकता और क्षेत्रीय अखंडता का सम्मान करता है और बलूचिस्तान की स्वतंत्रता का समर्थन नहीं करता।

दरअसल पाकिस्तान के दक्षिण पश्चिमी प्रांत बलूचिस्तान के अंदर और बाहर दोनों ओर से प्रांत की आजादी की मांग की आवाजें गूंजने लगी है। इसके अलावा यहां पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा मानवाधिकारों के उल्लंघन के खिलाफ भी आवाजें तेज होने लगी हैं। इस सवाल के जवाब में अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने बताया कि अमेरिकी सरकार पाकिस्तान की एकता और क्षेत्रीय अखंडता का सम्मान करती है और हम बलूचिस्तान की स्वतंत्रता का समर्थन नहीं करते।

बता दें कि बीते 15 अगस्त को देश के 70वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालकिले की प्राचीर से पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर, गिलगित और बलूचिस्तान का मुददा उठाया था। उन्होंने कहा था कि इन स्थानों के लोगों ने उन्हें उनके मुददे उठाने के लिए शुक्रिया कहा है।

Share With:
Rate This Article