burhan-mh1-mhone

J&K : घाटी में 2 वानी, एक था Terrorist तो दूसरा है BSF Topper

जहां एक ओर जम्मू कश्मीर में आतंकी बुरहान वानी की मौत के बाद से युवाओं रोष बढ़ गया है, वे लोग देशभक्ति की बात सुनना तो दूर बस घाटी को आग लगाने में जुटे हैं। वहीं उधमपुर के इस युवा ने कश्मीर का नाम रोशन कर दिया है।

जी हां, नबील वानी ने बीएसएफ में टॉप करके न केवल अपने परिवार का नाम ऊंचा किया है, बल्कि कश्मीर के युवाओं को प्रेरणा भी दी है। वानी ने हाल ही में असिसटेंट कमांडेंट का इग्जाम पास कर लिया है।

पिछले दो महीने से घाटी युवाओं के रोष में जल रही है, पथराव, आगजनी, युवा आतंकी बुरहान की मौत का बदला लेने में जुटे हुए हैं। दूसरी ओर एक युवा ऐसा भी है जो खून खराबा, हिंसा और बदले की भावना से नहीं जुझ रहा है। बल्कि युवाओं को एक नई दिशा की ओर ले जाने की पहल कर रहा है।

वानी ने कश्मीर के लाखों युवाओं से अपील करते हुए कहा कि अगर कुछ करना है तो देश के लिए करें, देश को बर्बाद करने के लिए नहीं। युवाओं में बहुत ताकत होती है। वे चाहें तो देश की अपने राष्ट्र की तस्वीर बदल सकते हैं।

आपको अपने सपने के लिए जान लगा देनी चाहिए। लेकिन कोई गलत रास्ता नहीं चुनना चाहिए। हालांकि सही रास्ता कठिन होता है, फिर भी आपको एक दिन चलते चलते मंजिल मिल ही जाती है। मैं हमेशा से ही सेना में आना चाहता था, आज मेरा सपना पूरा हुआ। मैं देश की सेवा करना चाहता था और इससे अच्छा मौका नहीं मिल सकता है। साल 2013 में वानी ने बीएसएफ की परीक्षा दी थी। वानी के पिता एक स्कूल टीचर हैं और वो एक मध्यम वर्गीय परिवार से ताल्लुक रखता है।

गौरतलब है कि कुछ महीनों पहले हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकी बुरहान वानी की घाटी में ही मौत हो गई थी। जिसके बाद से कश्मीर की हालात अशांत हैं। वानी की मौत के बाद कश्मीर के हजारों युवा संघर्ष में जुटे हुए हैं।

दो महीने में लापता हुए 80 युवक

खबर तो ये भी है कि कश्मीर में युवाओं का भविष्य खतरे में है। पिछले दो महीने में चार जिलों से 80 युवक लापता हो चुके हैं। ये भी एक चिंता की बात है। जो उम्र इनके पढ़ने लिखने और अपना करियर बनाने की है, वे देश के अहित में काम कर रहे हैं।

सूत्रों ने बताया कि चार जिलों, पुलवामा, कुलगाम, शोपियां एवं अनंतनाग से पिछले दो माह से करीब 80 युवकों के लापता होने की बात मानी जा रही है। इनमें से अधिकतर लापता युवक पुलवामा जिले के हैं।

Share With:
Rate This Article