yogender-mh1-mhone

स्वराज अभियान का हल्ला बोल शुरू, अजमेरी गेट में बंद कराई शराब की दुकान

स्वराज अभियान ने रविवार से शराब नहीं, स्वराज चाहिए कंपेन के अगले चरण का आगाज किया। पहले दिन वरिष्ठ वकील व अभियान के संस्थापक सदस्य प्रशांत भूषण की अगुवाई में मटिया महल इलाके में शराब की एक दुकान पर हल्ला बोला गया।

इस मौके पर बड़ी संख्या में अभियान के सदस्य भी मौजूद थे। इसके बाद दुकान बंद कर दी गई। अभियान का दावा है कि आने वाले दिनों में इस तरह की सभी दुकानों को बंद करवाया जाएगा।

दरअसल, स्वराज अभियान ने दिल्ली सरकार को अल्टीमेटम दिया था कि 11 सितंबर तक ऐसी सभी दुकानों को बंद कराया जाए, जो आम लोगों की मर्जी से नहीं खुली हैं।

अभियान ने ऐसी दुकानों की एक लिस्ट भी जारी की थी। रविवार को आखिरी दिन था। तयशुदा समय से पहले कोई कार्रवाई न होने पर शराब नहीं, स्वराज अभियान को अगले चरण में ले जाते हुए हल्ला बोल कार्यक्रम आयोजित किया गया।

इसके तहत मटिया महल विधानसभा में अजमेरी गेट के नजदीक की शराब दुकान बंद करवाई गई। इस मौके पर अभियान की कार्यकारिणी के सदस्य अनुपम ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की नशा मुक्ति की परिभाषा दूसरी है।

Share With:
Rate This Article