gayaparsad-mh1-mhone

यूपी: मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति व राज किशोर सिंह बर्खास्त

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सख्त कदम उठाते हुए उत्तर प्रदेश के खनन मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति व पशुधन मंत्री राज किशोर सिंह को बर्खास्त कर दिया है। इस संबंध में मुख्यमंत्री ने राज्यपाल राम नाईक को पत्र भेजा था। राज्यपाल ने मुख्यमंत्री की संस्तुति पर दोनों मंत्रियों को रविवार को पद से बर्खास्त कर दिया। साथ ही राज्यपाल

नाईक ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को लघु सिंचाई एवं पशुधन विभाग का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है। जबकि उद्यान, खाद्य प्रसंस्करण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मूलचंद चौहान को भूतत्व एवं खनिकर्म तथा समाज कल्याण, अनुसूचित जाति एवं जनजाति कल्याण, सैनिक कल्याण मंत्री राम गोविन्द चौधरी को पंचायती राज विभाग का अतिरिक्त प्रभार उनके वर्तमान विभागों के साथ आवंटित किया है

मुख्यमंत्री के इस अप्रत्याशित कदम को सियासी हलकों में बड़ा कदम माना जा रहा है। गायत्री प्रसाद प्रजापति सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव के करीबी माने जाते हैं। प्रजापति अमेठी से और राज किशोर बस्ती से विधायक हैं। सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव कई मौकों पर कह चुके हैं कि ज्यादातर मंत्री व विधायक पैसा कमाने में लगे हैं। अखिलेश के इस कदम को आपरेशन क्लीन से जोड़कर देखा जा रहा है। वहीं यह भी माना जा रहा है कि प्रदेश में अ‌वैध खनन के मामले में सीबीआई जांच में घिरे गायत्री प्रसाद प्रजापति से सरकार लंबे अरसे से पल्ला झाड़ना चाहती थी लेकिन इस मुद्दे पर पार्टी में एक राय न बन पाने के कारण फैसला अटका हुआ था।

सरकार की छवि पाक-साफ रखने को उठाया कदम
वैसे सियासी हलकों में एक धड़ा इसे अखिलेश सरकार की छवि पाक-साफ रखने के लिए उठाया गया रणनीतिक कदम मान रही है। वहीं पार्टी में इस फैसले को लेकर बड़ा आश्चर्य है। चर्चा है कि मुख्यमंत्री के इस कदम की न तो मंत्रियों को जानकारी थी और न ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को। चर्चा है कि इस कदम से पार्टी के एक धड़े में खासी नाराजगी भी है। इस मुद्दे पर दिल्ली में सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव, शिवपाल सिंह यादव और राम गोपाल यादव के बीच मंत्रणा भी हुई है।

Share With:
Rate This Article