dawood-mh1-mhone

नहीं रहा DON का डर! 40 करोड़ लेकर फरार हुआ दाऊद का गुर्गा

भारत का मोस्ट वांटेड डॉन दाऊद इब्राहिम अब वैश्विक आतंकी के रूप में जाना जाता है। विश्व के कई देशों में उसके ड्रग्स व नशे के कारोबार में धड़ल्ले से चल रहे हैं। लेकिन दाऊद के ही एक गुर्गे को उसका ही डर नहीं रहा। खालिक अहमद नाम के एक गुर्गे ने डॉन को 40 करोड़ का चूना लगा दिया।

एक अंग्रेजी वेबसाइट ने खूफिया सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर बताया है कि खालिक को नई दिल्ली के किसी सफेदपोश से 45 करोड़ रुपये लेने थे, जिसमें से 40 करोड़ रुपये हवाला के जरिए विदेश भेजा जाना था। 5 करोड़ रुपये खालिक को डॉन ने खर्च के लिए दिये थे। लेकिन खालिक 5 करोड़ के साथ-साथ 40 करोड़ रुपये लेकर भी फरार हो गया।

खूफिया एजेंसियों को ये जानकारी पाकिस्तान में दाऊद के गुर्गे जाबिर मोती और खालिक अहमद के बीच फोन पर हुई बातचीत से मालूम हुआ। खालिक भारत और शारजहां आता जाता रहता है। इस दौरान खालिक इस नंबर +9170852*22** का इस्तेमाल करता है। दोनों के बीच हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग से इस बात की जानकारी हुई । बातचीत के दौरान जाबिर को खालिक से ये कहते हुए सुना गया कि दाऊद के खास आदमी रज्जाक भाई ने इस मामले को उठाया है।

रज्जाक के मुताबिक, खालिक ने बड़े हजरत ( दाऊद) के नाम का गलत इस्तेमाल कर पैसों का गबन किया है। इससे दाऊद की छवि खराब हुई है। जांच एजेंसी के सूत्रों की मानें तो डी कंपनी के दो जासूसों को खालिक 26 नवंबर 2015 को दिल्ली से कनाडा भेजा गया है। सूत्रों ने बताया कि खालिक अभी मणिपुर में छिपा बैठा है।

गबन किये गये 40 करोड़ रुपयों में से आधे पैसे पनामा बैंक में भेजा जाना था जबकि बाकी के रुपये को विदेश में चल रहे दाऊद के अन्य धंधों में लगाना था। इस पैसे को डॉन के गुर्गे ने दिल्ली, मुंबई और अन्य क्षेत्रों से एकत्र किया था जिसे हवाला के जरिए पनामा, कनाडा, दुबई और पाकिस्तान भेजा जाना था।

Share With:
Rate This Article