abvp-mh1-mhone

DU चुनावः ABVP का होगा डंका या NSUI का परचम, फैसला 12 बजे

दिल्ली यूनिवर्सिटी (DU) छात्रसंघ चुनाव में हुए मतदान की मतगणना सुबह से शुरू हो गई। ABVP का डंका बजेगा या फिर NSUI का परचम लहराएगा इसका फैसला आज दोपहर 12 बजे होगा। मतगणना के दौरान वीडियो रिकॉर्डिंग के भी इंतजाम किये गए हैं। हर दो मशीनों पर एक कैमरा लगाया गया है।

काउंटिंग सेंटर के अंदर माहौल गर्म है। प्रत्याशी लगातार मशीनों पर नजर बनाए हैं। 3 सीट पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद आगे चल रही है। एक सीट पर नेशनल स्टूडेंट यूनियन ऑफ़ इंडिया NSUI आगे चल रही है। काउंटिंग के लिए 40 बॉक्स बाकी हैं। काउंटिंग सेण्टर के अंदर डूसू अध्यक्ष सतेंद्र अवाना और प्रोफेसर्स में झड़प हुए। उन्होंने मशीन नंबर ऍम 016825 में गड़बड़ी की शिकायत की। प्रोफेसर्स ने मशीन की वीडियो रिकॉडिंग कराई।

इसके अलावा जेएनयू के स्कूलों में भी वोटों की गिनती चल रही है। 1100 वोटों की गिनती के बाद जेएनयू के स्कूल ऑफ लैंग्वेजेज में आईसा और एसएफआई गठबंधन सभी पांच काउंसलर सीटों पर आगे चल रहा है।

ABVP ने 11 कॉलेजों में प्रत्याशी जिताए
दिल्ली विश्वविद्यालय चुनाव में इस वर्ष अखिल भारतीय विधार्थी परिषद ने कुल 18 कॉलेजों में अपना पेंनल चुनाव मैदान में उतारा। इसमें से करीब 11 कॉलेजो में किसी न सीट पर संगठन के प्रत्याशियों ने जीत हासिल की। इसमें नार्थ कैंपस स्थित खालसा और भगनी निवेदिता कॉलेज में पूरा पैनल विजय हुआ।

नार्थ कैंपस में सत्यवती मॉर्निंग व इवनिंग में उपाध्यक्ष, सचिव,सह सचिव,और केंद्रीय पार्षद, विवेकानंद कॉलेज में सचिव ,सह सचिव ,जाकिर हुसैन में उपाध्यक्ष, साउथ में आत्मा राम सनातन धर्म में उपाध्यक्ष, वेंकी में अध्यक्ष,सह सचिव,केंद्रीय पार्षद, राम लाल आनंद कॉलेज में अध्यक्ष ,सचिव,केंद्रीय पार्षद, श्री अरबिंदो मॉर्निंग में उपाध्यक्ष, सचिव, केंद्रीय पार्षद जीते।

NSUI का 44 में से 33 में बेहतरीन प्रदर्शन
कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआई ने 44 में से 33 कॉलेजों में बेहतरीन प्रदर्शन किया। पांच कॉलेजों में एनएसआई का पैनल पूरी तरह से जीता। जबकि दो कॉलेजों में बिना एनएसयूआई ने निरविरोध चुनाव जीत लिया।
लक्ष्मी बाई , सत्यवती कॉलेज , दयाल सिंह, अदिति व एसपीएम कॉलेजों में एनएसयूआई का पैनल पूरी तरह से जीत गया। श्रद्धानंद व रामानुजन कॉलेज में विरोधी प्रत्याशी का नामांकन ही रद्द हो जाने से एनएसयूआई का प्रत्याशी बिना किसी विरोध के ही जीत गया।

Share With:
Rate This Article