reward-mh1-mhone

रंग लाया 15 साल की गरीब बेटी का संघर्ष, ईनाम देने खुद घर पहुंची सरकार

एक कच्ची झोंपड़ी में रहने वाली इस गरीब बेटी का संघर्ष रंग लाया। सोशल मीडिया पर लाखों लोगों की चहेती बनी इस बेटी को ईनाम देने खुद सरकार घर पहुंच गई। हिमाचल सरकार के उद्योग मंत्री मुकेश अग्निहोत्री शनिवार को खुद बक्‍शो के घर पहुंचे और उसे एक लाख रुपए का ईनाम देकर सम्मानित किया। बक्‍शो काफी खुश दिखी। उसे उसकी मेहनत का ईनाम मिल रहा था।

गरीब उड़नपरी के नाम से हिट हुई बक्‍शो ने ऐसा कारनामा कर दिखाया था जो सभी बेटियों के लिए मिसाल बन गया। हिमाचल के ऊना की रहने वाली बख्शो देवी के पिता की मौत नौ साल पहले हो गई थी। इसके बाद बाद मां विमला देवी अपने पिता दाताराम के घर आकर रहने लगी।

चार बहनों में सबसे छोटी बख्शो खेलकूद और पढ़ाई के साथ साथ घर का सारा कामकाज भी करती है। इसके अलावा पशुओं का चारा आदि काटने में भी मां की पूरी मदद करती है। घर का इतना काम करने के बावजूद बख्‍शो ने खुद को इतना ताकतवर बना लिया कि वह एक नए मकाम पर पहुंचने के ‌लिए तैयार थी।

Share With:
Rate This Article