child-mh1-mhine

बेटे को जन्म देने वाली मां को अस्पताल ने थमाई बेटी, डीएनए से खुलासा

आखिरकार हिमाचल के एकमात्र महिला अस्पताल का कारनामा सबके सामने आ गया। डिलीवरी के बाद बेटे की जगह महिला को बेटी थमा दी गई थी। डीएनए की रिपोर्ट आने के बाद यह बात साबित हो चुकी है कि अस्पताल में कोई बड़ा खेल चल रहा है।

पुलिस के अनुसार शिमला के केएनएच में बच्चा बदलने के मामले में अभिभावकों के दावे पर सरकारी मुहर लग गई है। फोरेंसिक लैब से आई रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि बच्चे का डीएनए मां से मैच नहीं हुआ है।

इसका मतलब सीधा है कि कमला नेहरू अस्पताल में जन्म के समय बच्चा बदल गया था। छोटा शिमला थाना में शुक्रवार को यह रिपोर्ट फोरेंसिक लैब जुन्गा की ओर से भेजी गई है। इस खुलासे के बाद कमला नेहरू अस्पताल की कार्यप्रणाली संदेह के घेरे में आ गई है।

पुलिस ने मामले में इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया है। यहां रोजाना औसतन आठ से दस बच्चों का जन्म होता है। इस स्थिति में उन अभिभावकों के मन में भी शंका घिर आएगी जिन्हें कुछ महीने पहले मां-बाप बनने का सुख मिला है।

Share With:
Rate This Article