obama-mh1-mhone

परमाणु परीक्षणः ओबामा ने उत्तर कोरिया को दी नए प्रतिबंधों की चेतावनी

उत्तर कोरिया की ओर से एक और परमाणु परीक्षण किए जाने पर अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने प्योंगयांग को नए अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों की चेतावनी दी और स्पष्ट कर दिया कि अमेरिका उसे कभी भी परमाणु शक्ति संपन्न राष्ट्र के तौर पर स्वीकार नहीं करेगा।

वहीं, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने परमाणु परीक्षण की कड़ी निंदा करते हुये कहा कि इस संबंध में जल्द ही एक प्रस्ताव लाया जायेगा।

परमाणु परीक्षण की सूचना मिलने के बाद ओबामा ने दक्षिण कोरिया की राष्ट्रपति पार्क ग्वेन ही और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे के साथ विचार विमर्श किया।

ओबामा ने एक बयान में कहा, हमने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद, हमारे छह पक्षीय साझेदारों और अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ मिलकर काम करने पर सहमति जताई ताकि मौजूदा कदमों को सख्ती से लागू किया जा सके और नए प्रतिबंधों सहित अतिरिक्त कदम उठाये जा सकें।

व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जोश एर्नेस्ट ने कहा, राष्ट्रपति ने संकेत दिया है कि वह हमारे साझेदारों और सहयोगियों के साथ आने वाले दिनों में विचार-विमर्श जारी रखेंगे ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि उत्तर कोरिया को उकसाने वाले कदमों को लेकर गंभीर परिणाम भुगतना पड़े।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति ओबामा को उस वक्त हालात के बारे में सूचना दी गई जब वह एशिया दौरे से स्वदेश के लिए रवाना हुए और वह आधिकारिक विमान एयरफोर्स वन में थे।

ओबामा ने अपने विमान से ही दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति पार्क ग्वेन ही और जापानी प्रधानमंत्री शिंजो अबे से भी बातचीत की।

संरा सुरक्षा परिषद में जल्द आएगा प्रस्ताव
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने उत्तर कोरिया की ओर से किये गये पांचवें परमाणु परीक्षण पर कहा कि इस संबंध में जल्द ही एक प्रस्ताव लाया जायेगा।

अमेरिका ,ब्रिटेन और फ्रांस ने उत्तर कोरिया की ओर से अब तक का सबसे बड़ा परमाणु परीक्षण किये जाने के बाद उसके खिलाफ नये प्रतिबंध लगाये जाने की सुरक्षा परिषद से अपील की थी।

गौरतलब है कि उत्तर कोरिया ने शुक्रवार को अपना अब तक का सबसे बड़ा परमाणु परीक्षण किया था।

Share With:
Rate This Article