punjab-mh1-mhone

पंजाब विधानसभा का दूसरा दिन, विपक्ष का हंगामा, सरकार विरोधी नारेबाजी

पंजाब विधानसभा के दूसरे दिन शून्यकाल के दौरान और उसके बाद विपक्षी दल ने जबरदस्त हंगामा किया और सरकार विरोधी नारेबाजी की। सुनील जाखड़ ने डिप्टी सीएम सुखबीर बादल के खिलाफ ब्रीच ऑफ प्रिविलेज मोशन का नोटिस दिया था, जिसे स्पीकर चरनजीत सिंह अटवाल ने स्वीकार नहीं किया। इसे लेकर कांग्रेसियों ने जम कर नारेबाजी की। शून्य काल खत्म होने के साथ ही विपक्ष के तेवर तीखे हो गए थे।

सुनील जाखड़ ने कहा कि उन्होंने डिप्टी सीएम के खिलाफ ब्रीच ऑफ प्रिविलेज मोशन का नोटिस दिया था। स्पीकर ने कहा कि उन्होंने वह स्वीकार नहीं किया है। इसकेसाथ ही कांग्रेसियों ने नारेबाजी शुरू कर दी, साथ ही मार्शल बुला लिए गए। कांग्रेसी भी नारेबाजी करते हुए वेल में आ गए। जाखड़ ने कहा कि उनके पास सबूत है।

स्पीकर अटवाल ने कहा कि उन्होंने कभी सबूत देने को कहा ही नहीं था। नियम सबके लिए एक हैं। अगर कुछ बोलना है तो अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान बोल सकते हैं। कांग्रेसियों ने नारेबाजी तेज कर दी। साथ ही शहरों में विकास केनाम पर लोगों को गुमराह करने के आरोप लगाए।

Share With:
Rate This Article