shahabudin-mh1-mhone

जेल से छूटते ही शहाबुद्दीन ने कहा- नीतीश परिस्थितियों के CM, लालू ही मेरे नेता

शनिवार सुबह भागलपुर कैंप जेल से सीवान के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन को रिहा कर दिया गया। पिछले 11 सालों से जेल में सजा काट रहे शहाबुद्दीन को पटना हाई कोर्ट ने गुरुवार को बेल दिया था। सीवान से रिलीज आदेश पहुंचने के वाद शहाबुद्दीन सुबह साढे सात बजे भागलपुर कैंप जेल से बाहर आ गए। जेल से छूटते ही शहाबुद्दीन ने कहा कि लालू ही उसके नेता हैं।

जेल से रिहा होते ही शहाबुद्दीन ने कहा कि लालू यादव ही उसके नेता हैं। मैंने कभी भी बैकडोर पॉलिटिक्स नहीं की है। मैं 13 साल बाद अपने गांव जा रहा हूं।

जेल भेजने के पीछे नीतीश सरकार के हाथ के सवाल पर शहाबुद्दीन ने कहा कि नीतीश कुमार परिस्थितिवश सीएम बने हैं । सभी जानते हैं कि मुझे फंसाया गया है। मैं दस साल तक किसी के संपर्क में नहीं था। एक अन्य सवाल के जवाब में शहाबुद्दीन ने कहा कि सीवान में 22 लाख लोग रहते हैं। एक व्यक्ति क्या कह रहा है इसका कोई मतलब नहीं है। बहुमत की क्या राय है ये देखिए।

ये भी पढ़ेंः 11 साल बाद जेल से रिहा हुआ तेजाब से नहलाने वाला शहाबुद्दीन

भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी पर पूछे एक सवाल के जवाब में बाहूबली नेता व पूर्व सांसद ने कहा कि उन्हें कोई गंभीरता से नहीं लेता। मैंने कभी भी उन्हें गंभीरता से नहीं लिया।

जेल के बाहर उनके स्वागत के लिए राजद और जदयू के कई एमएलए, एमएलसी, राजद के पदाधिकारी और काफी संख्या में समर्थक मौजूद थे। करीब 200 गाड़ियों के काफिले के साथ वे सीवान के लिए रवाना हुए।

जेल से शहाबुदीन सुबह सात बजे निकला। मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान उसने कहा कि सीवान में पहले पत्रकार राजदेव रंजन के परिवार से मिलने उनके घर जाएंगे। जेल में ग्यारह साल तक डायरी लिखे हैं।लोगों को मेरा उजला कपड़ पसंद है। जरुरत पड़ तो जिंस पैंट भी पहनेंगे। सुशील मोदी के बयान को कभी गंभीरता से नहीं लेता।

Share With:
Rate This Article