Umar-Khalid-Mh1-Mhone

JNU: उमर खालिद पर कार्रवाई टली, कन्हैया की याचिका पर सुनवाई आज

दिल्ली हाईकोर्ट ने जेएनयू अपीलीय अथॉरिटी को निर्देश दिया है कि उमर खालिद, आनिर्बान भट्टाचार्य आदि छात्रों के खिलाफ कार्रवाई एक हफ्ते के लिए टाल दें। इन छात्रों को कैंपस में देशद्रोही नारे लगाने के आरोप में सजा दी गई है। वहीं कन्हैया समेत सात अन्य छात्रों ने प्राधिकरण के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी है। इसकी आज सुनवाई होगी।

गौरतलब हो कि जेएनयू में 9 फरवरी को हुए कार्यक्रम पर विवाद के बाद बनी जेएनयू की अपीलीय अथॉरिटी ने अनुशासनहीनता के चलते उमर को दिसंबर तक के लिए निष्कासित किया है। वहीं, अनिर्बान को पांच साल के लिए जेएनयू से बाहर कर दिया गया है। आरोप है कि कार्यक्रम में देशविरोधी नारे लगाए गए थे।

हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान समक्ष उमर व अनिर्बान के अधिवक्ता ने तर्क दिया कि प्राधिकरण ने मामले में सभी पहलुओं पर विचार नहीं किया है। उनके पक्ष को सही से सुना नहीं गया है। वहीं, जेएनयू प्रशासन की तरफ से मौजूद अधिवक्ता ने याचिकाकर्ताओं के सभी तर्को को सिरे से नकार दिया। उन्होंने कहा कि प्राधिकरण ने याचिकाकर्ताओं के सभी पक्षों पर विचार करने के बाद ही अपना फैसला सुनाया है। गौरतलब है कि जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार, उमर खालिद व अनिर्बान भट्टाचार्य समेत 19 लोगों को जेएनयू की अपीलीय प्राधिकरण ने अनुशासनहीनता में दोषी करार दिया था। 6 सितंबर से सजा लागू होनी है।

Share With:
Rate This Article