Modi-Mh1-Mhone

वियतनाम में मोदीः रक्षा सहयोग के लिए 50 करोड़ डॉलर कर्ज देगा भारत

हनोई। चीन यात्रा से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक दिवसीय वियतनाम दौरे पर दोनों देशों के प्रतिनिधियों के बीच वार्ता हुई। इस वार्ता में भारत और वियतनाम ने द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने की दिशा में रक्षा एवं आईटी समेत विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के मकसद से 12 समक्षौतों पर हस्ताक्षर हुए। इस दौरान दोनों देशों के प्रधानमंत्री मौजूद रहे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रक्षा सहयोग को मजबूत करने के लिए वियतमान को 50 करोड़ अमेरिकी डॉलर कर्ज देने की घोषणा की।

मोदी ने ची मिन्ह और वियतनाम के शहीदों को दी श्रद्धांजलि
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का वियतनाम में आज पारंपरिक ढंग से स्वागत किया गया और उन्होंने 20 वीं सदी के सर्वश्रेष्ठ नेताओं में से एक रहे हो ची मिन्ह तथा शहीदों को श्रद्धांजलि दी।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने ट्वीट करके बताया कि वियतनाम की यात्रा पर कल यहां पहुंचे पीएम मोदी ने अपने तय कार्यक्रत के तहत सबसे पहले शहीद जवानों के स्माकर स्थल का दौरा किया और इसके बाद उन्होंने हो ची मिन्ह की समाधि पर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

इसके बाद वियतनाम के राष्ट्रपति भवन में मोदी का पारंपरिक ढ़ंग से स्वागत किया गया और उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया। मोदी ने वियतनाम के प्रधानमंत्री गुयेन शुआन फुक से मुलाकात की और उनसे कई मुद्दों पर चर्चा की।

दोनों देशों के बीच रक्षा, सुरक्षा, आतंकवाद निरेाधक और व्यापार जैसे अहम क्षेत्रों पर समझौते हो सकते हैं। दोनों देशों के बीच 10 समझौतों पर सहमति बनी है। ये समझौते डिफेंस, हेल्थ और स्पेस से जुड़े हैं। आपको बताते चलें कि भारत और वियतनाम के बीच अभी सालाना कारोबार 7400 करोड़ रुपये है। साल 2020 तक इसे बढ़ाकर 10 हजार करोड़ रुपये तक ले जाने का लक्ष्य है।

Share With:
Rate This Article