Temple-Mh1-Mhone

भक्त की खुशी के लिए देवता ने दिया ऐसा श्राप कि उजड़ गया पूरा गांव

अपने भक्त की खुशी के लिए महासू देवता ने ऐसा श्राप दिया कि पूरा का पूरा गांव ही उजड़ गया। बस एक मछली की खातिर ये पूरी तबाही हुई थी। हिमाचल के सिरमौर जिले का रास्त गांव आज अपनी आखिरी सांसें गिन रहा है। इसकी कहानी भी बड़ी ही रोचक है। गांव के लोग बताते हैं कि दशकों पूर्व शिलाई गांव के 18 लोग हनौल स्थित महासू देवता के मंदिर जा रहे थे। मार्ग में रोनहाट के निकट रास्त गांव का एक व्यक्ति नदी से मछली मार कर ला रहा था। हनौल जा रहे लोगों ने व्यक्ति से मछली मांगी तो उसने देने से मना कर दिया।

बाद में इन लोगों ने व्यक्ति से जबरन मछली छीन ली और वहीं पकाकर खा ली। रात होने के कारण ये वहीं सो गए। वहीं, उस व्यक्ति ने अपने गांव रास्त में जाकर लोगों को यह बात बताई। गांव के लोग गुस्से में आ गए। रास्त गांव के औजोऊ लोग हथियारों से लैस होकर आए। इन्होंने रास्ते में सोए 17 लोगों को मार दिया जिन्होंने ढाकी से जबरदस्ती मछली व्यक्ति ली थी। मात्र एक व्यक्ति जीवित रखा। मगर उसके भी दोनों हाथ काट दिए गए। बचते बचाते जैसे-तैसे यह व्यक्ति महासू देवता मंदिर की ओर चल पड़ा।

Share With:
Rate This Article