Khemka-MH1-Mhone

जस्टिस ढींगरा बोले, जांच में क्यों शामिल नहीं ​किया IAS खेमका को?

वाड्रा डीएलएफ लैंड डील की जांच में जस्टिस ढींगरा ने आईएएस खेमका को शामिल नहीं किया। इसके पीछे का कारण भी उन्होंने बताया। जस्टिस एसएन ढींगरा आयोग ने अपनी रिपोर्ट सौंपने के साथ स्पष्ट कर दिया है कि उन्होंने जांच में आईएएस अशोक खेमका को शामिल करना उचित नहीं समझा।

जस्टिस ढींगरा ने पत्रकारवार्ता में साफ किया है कि मुझे आवश्यक लगता तो मैं खेमका को बुलाता। मैंने अपनी जांच को पूरा करने के लिए जिसको जरूरी समझा उसे बुला लिया।

खेमका ने रिपोर्ट आने के बाद भले ही चुप्पी साध ली है, लेकिन अंदरखाते हकीकत यह है कि खेमका को भी रिपोर्ट के सार्वजनिक होने का इंतजार है। रिपोर्ट के बाद मीडिया में खेमका की कोई भी टिप्पणी नहीं आई है।

समय-समय पर ट्वीट करते रहने वाले खेमका ने कोई ताजा ट्वीट भी नहीं किया है। रिपोर्ट के सौंपे जाने के साथ वह बुकलेट जरूर सुर्खियों में आ गई है, जिसे भाजपा ने चुनाव के मैदान में प्रयोग किया था। दामादश्री के नाम से जारी इस बुकलेट में वाड्रा से इस लैंड डील को लेकर कई सवाल किए गए हैं।

ये सवाल शामिल हैं या नहीं यह रिपोर्ट सार्वजनिक होने के बाद साफ होगा। सूत्रों के मुताबिक सरकार इस रिपोर्ट को सार्वजनिक करने से पहले आलाकमान से सलाह करेगी। प्रकाश सिंह कमेटी की रिपोर्ट सार्वजनिक करने के बाद सरकार को सही टाइमिंग का इंतजार है।

Share With:
Rate This Article