GST-Mh1-Mhone

हरियाणा विधानसभा में पास हुआ GST बिल

देश के 7 राज्यों में पहले से ही जीएसटी बिल लागू हो चुका है। अब एक और राज्य में इसे सर्वसम्मति से पास कर दिया गया। हरियाणा प्रदेश ऐसा करने वाला 8वीं राज्य बना है। हरियाणा विधानसभा में थोड़ी बहस के बाद सर्वसम्मति से यह बिल पास हो गया। विधानसभा में मानसून सत्र के दौरान दूसरे दिन की कार्यवाही में शून्यकाल के दौरान यह बिल पेश किया गया, जिसे मामूली बहस के बाद पारित कर दिया गया।
वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने शून्यकाल के दौरान संशोधित जीएसटी बिल को सदन के पटल पर रखा। कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी ने कहा कि इस टैक्स से छोटे व्यापारियों को नुकसान होगा। उन्होंने अपनी पार्टी की तरफ से इस बिल को संशोधित करते हुए हरियाणा के हित में लाभदायक बनाने का सुझाव दिया। कांग्रेस के पलवल से विधायक करण दलाल ने कहा कि हरियाणा में उद्योग अधिक हैं।

केंद्र ने जीएसटी का फार्मूला तो बना दिया, बावजूद उसके राज्य को कर लादने का अधिकार है। अभी तो दिक्कत नहीं होगी, लेकिन जब सरकार बदलेगी तो इसमें अड़चनें आएंगी। तंबाकू को 40 प्रतिशत टैक्स की कैटेगरी में रखा है, जो लोग गांव में हुक्का पीते हैं। उनका तो हुक्का पीना दूभर हो जाएगा। उन्होंने संशोधनों की मांग की। इनेलो विधायक परमिंदर ढुल्ल ने कहा कि पेट्रोलियम पदार्थों को इसके दायरे में शामिल किया जाए तो लोगों को अधिक लाभ मिलेगा।

Share With:
Rate This Article