Abhinav-Bindra-Mh1-Mhone

RIO: प्रदर्शन की समीक्षा पर बोले बिंद्रा, ‘नहीं करूंगा साथी शूटरों से सवाल’

भारत के पहले और इकलौते ओलंपिक व्यक्तिगत गोल्ड मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा को रियो ओलंपिक में निशानेबाजों के खराब प्रदर्शन की जांच के लिए गठित पांच सदस्यीय समिति का अध्यक्ष चुना गया है लेकिन उन्होंने निशानेबाजों से सवालात करने से इनकार कर दिया क्योंकि वह खुद टीम का हिस्सा थे।

भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ ने कहा कि समिति का काम यह पता लगाना है कि रियो ओलंपिक में निशानेबाजों को एक भी मेडल क्यों नहीं मिल सका। समिति यह सुझाव भी देगी कि एनआरएआई कौन से कदम उठाए जिससे भविष्य में ओलंपिक में इस तरह का खराब प्रदर्शन फिर नहीं हो।

रियो में 10 मीटर एयर राइफल में चौथे स्थान पर रहे बिंद्रा ने एनआरएआई से कहा कि वह अपने किसी साथी से सवालात नहीं करेंगे लेकिन समीक्षा समिति के किसी भी आकलन के लिए तैयार हैं। समिति के अन्य सदस्यों में पूर्व टेनिस खिलाड़ी मनीषा मल्होत्रा, एनआरएआई सचिव राजीव भाटिया और दो पत्रकार भी हैं। इसे चार सप्ताह के भीतर अपनी रिपोर्ट अध्यक्ष को देने के लिए कहा गया है। समिति की पहली बैठक 30 या 31 अगस्त को होगी।

Share With:
Rate This Article