Rape-Victim-Mh1-Mhone

रेप पीड़िता ने सीएम को लिखा खून से पत्र, न्याय न मिला तो जान दे दूंगी

रेप पीड़िता एक युवती ने प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल को अपने खून से पत्र लिखकर न्याय की गुहार लगाई है। युवती ने पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने के आरोप लगाए हैं। युवती ने आरोप लगाया कि पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की, जबकि हमारे परिवार के जानकारों व पंचायती सदस्यों पर जबरन दबाव बनाने के लिए केस दर्ज कराए जा रहे हैं। युवती ने चेतावनी दी है कि अगर उसे न्याय नहीं मिला तो वह आत्मदाह कर लेगी।

वीरवार को मीडिया से रूबरू युवती ने बताया कि करनाल निवासी रवि ने उसे झांसा दिया कि वह उसके साथ शादी करेगा, लेकिन उसने शादी नहीं की। इससे पहले वह झांसे देकर उसके साथ जबरदस्ती संबंध बनाता रहा। शादी से इंकार करने के बाद उसने रवि के खिलाफ शिकायत दी। दो सितंबर, 2015 को पुलिस ने रवि व अन्य के खिलाफ रेप समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया था, लेकिन आज तक इसमें कोई कार्रवाई नहीं की गई।

सीएम को लिखे पत्र में युवती ने बताया कि वह इस मामले को लेकर कई बार एसपी से लेकर आईजी तक मिली, लेकिन न्याय नहीं मिला। उसने आरोप लगाया कि एसपी आफिस में तैनात एक सब इंस्पेक्टर भी इस मामले में कार्रवाई नहीं होने दे रहा है। युवती का आरोप है कि अब रेप के केस को कमजोर करने के लिए उसके परिवार व अन्य जानकारों के खिलाफ केस दर्ज कराए जा रहे हैं।

Share With:
Rate This Article