PU-Mh1-Mhone

पीयू चुनाव: पीयू प्रशासन सख्त, छात्र नेता मस्त, जमकर हो रही नियमों की अनदेखी

पंजाब यूनिवर्सिटी(पीयू) और एफिलिएटेड कॉलेजों में 2016-17 सत्र के छात्र काउंसिल चुनाव की तैयारियां चरम पर हैं। कई छात्र संगठनों ने वोटर को लुभाने के लिए मोरनी, कसौली, शिमला ले जाने की तैयारी है। दो दिन पहले एक छात्र संगठन 150 से अधिक विद्यार्थियों को कसौली टूर पर ले जा चुका है।

यूटी प्रशासन से अनुमति मिलते ही 7 सितंबर को मतदान की घोषणा कर दी जाएगी। उधर पीयू और कॉलेजों में चुनाव मैदान में उतरने वाले सभी छात्र संगठनों ने तैयारियां तेज कर दी हैं। वोट बैंक मजबूत करने के लिए पैसा का जमकर प्रयोग हो रहा है। डीएसडब्ल्यू और चीफ सिक्योरिटी ऑफिसर को कुछ छात्र संगठनों द्वारा बिना अनुमति टूर ले जाने की शिकायतें मिली हैं। पीयू प्रशासन जल्द छात्र संगठनों को बिना अनुमति टूर ले जाने वालों के खिलाफ कार्रवाई का नोटिस जारी करेगा।

पीयू प्रशासन ने पीयू के सभी हॉस्टल में छात्र काउंसिल चुनाव तक सभी आउटसाइडर की एंट्री पर रोक लगा रखी है। चीफ सिक्योरिटी ऑफिसर के निर्देशों पर अब चुनाव तक किसी भी हॉस्टल मेस में कोई स्टूडेंट बाहरी स्टूडेंट को खाना नहीं खिला सकेगा। ऐसे करने पर पीयू प्रशासन स्टूडेंट को हॉस्टल से सस्पेंड कर देगा। साथ ही मेस ठेकेदार पर भी कार्रवाई होगी। सभी हॉस्टल वार्डन को चुनाव तक मेस रजिस्टर चेक करने के निर्देश जारी किए गए हैं।

Share With:
Rate This Article