Jammu-Mh1-Mhone

कश्मीर में कैसे सामान्य होंगे हालात, CRPF और पुलिस हुई फेल

कश्मीर के हालात को सामान्य बनाने के लिए सुरक्षा बलों को पैलेट गन का इस्तेमाल रोक देना चाहिए। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी कश्मीर के दौरे के समय ऐसी उम्मीद जताई थी। सीआरपीएफ और पुलिस जैसे सुरक्षा बल भीड़ को नियंत्रित करने में फेल हो गए हैं। सुरक्षा बलों ने 2008 और 2010 के आंदोलन से कोई सबक नहीं लिया है।

सुरक्षा बलों ने जितनी गोलियां चलाई हैं, वो सब शरीर के ऊपरी हिस्से में लगी हैं, ऐसा क्यों? अगर सरकार अभी पैलेट गन का इस्तेमाल रोक दे और अफस्पा पर बहस शुरू करे कि उसे राज्य में कहां-कहां से हटाया जा सकता है, तो यह विश्वास बहाली का उपाय हो सकता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि कश्मीर शांति चाहता है। और हम जम्मू-कश्मीर का विकास चाहते हैं और विकास के ज़रिए सभी समस्याओं का समाधान तलाश रहे हैं। आज कश्मीर के जो हालात हैं, उसे देखते हुए प्रधानमंत्री को बहुत पहले ही यह कदम उठाने चाहिए थे। उन्हें राज्य के हालात को बेहतर बनाने के लिए ज़रूरी क़दम उठाने चाहिए थे।

Share With:
Rate This Article