कश्मीर में अब तक 23 मरे, भीड़ ने कोर्ट फूंका; मोदी ने अफ्रीका से डोभाल को भेजा

सोमवार को राजनाथ सिंह ने हाई लेवल मीटिंग बुलाई। इसमें एनएसए अजीत डोभाल भी मौजूद थे। डोभाल अफ्रीका दौरा बीच में छोड़कर लौटे हैं।, national news in hindi, national news
सोमवार को राजनाथ सिंह ने हाई लेवल मीटिंग बुलाई। इसमें एनएसए अजीत डोभाल भी मौजूद थे। डोभाल अफ्रीका दौरा बीच में छोड़कर लौटे हैं।
नई दिल्ली/श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर में लगातार तीसरे दिन हिंसा जारी है। इस बीच, अफ्रीका विजिट पर गए मोदी ने अपना दौरा खत्म होने से 24 घंटे पहले ही नेशनल सिक्युरिटी एडवाइजर अजीत डोभाल को हालात संभालने के लिए भारत भेज दिया। डोभाल ने होम मिनिस्टर के साथ मीटिंग की। कहा, ”हमें भरोसा है कि इसका हल निकल आएगा।” वहीं, अमरनाथ यात्रा फिर से शुरू हो गई। श्रद्धालुओं को श्रीनगर में रातभर रोका जाएगा, फिर वे आगे सफर करेंगे। हालांकि, साउथ कश्मीर के जिलों में कर्फ्यू के बावजूद प्रदर्शनकारी सड़कों पर हैं। आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद से भड़के हिंसक प्रदर्शन में 23 लोगों की मौत हुई है। आतंकी बुरहान के एनकाउंटर से सदमे में हैं पाकिस्तान, POK में हाफिज ने की रैली…
– पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (POK) में रविवार को मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद ने रैली की।
– इसमें हिजबुल मुजाहिदीन का चीफ सैयद सलाउद्दीन भी था। इसी संगठन का कमांडर बुरहान एनकाउंटर में मारा गया है।
– इधर, पाकिस्तान के पीएम ऑफिस की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि बुरहान की मौत पर नवाज शरीफ सदमे में हैं।
– इस पर होम मिनिस्टर ऑफ स्टेट, किरण रिजिजू ने कहा, ”पाकिस्तान अपने देश में हो रहे ह्यूमन राइट्स वॉयलेशन की फिक्र करे। हमारे अंदरूनी मामलों में दखल न दे।”
– इससे पहले रविवार को पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने भी बयान जारी कर कश्मीर में भारत के रुख का विरोध किया था।
भीड़ ने कोर्ट में लगाई आग
– कश्मीर में प्रदर्शन के दौरान भीड़ ने यहां के अनंतनाग जिले की कोर्ट में आग लगा दी।
– साउथ कश्मीर में रविवार को भीड़ ने एक पुलिस वाले को गाड़ी समेत झेलम नदी में धकेल दिया था।
राजनाथ ने किया सोनिया-उमर को फोन
– सोमवार को जम्मू-कश्मीर के हालात सुधारने के लिए होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह ने सोनिया गांधी और उमर अब्दुल्ला से फोन पर बात की।
– उमर अब्दुल्ला ने कहा, ”होम मिनिस्टर ने फोन किया था। हमने उनसे कहा कि सिक्युरिटी फोर्सेज प्रदर्शन को दबाने की ऐसी कोशिश न करें। लोगों की मौत से समस्या का हल नहीं होगा।”
– इस बीच, राजनाथ सिंह ने एक हाई लेवल मीटिंग बुलाई। इसमें एनएसए अजीत डोभाल भी मौजूद थे।
– इस दौरान फैसला लिया गया कि घाटी में रिजर्व के तौर पर सीआरपीएफ की आठ कंपनियां भेजी जाएंगी।
कश्मीर में तीसरे दिन ट्रेन सर्विस ठप
– नॉर्थ कश्मीर में श्रीनगर-बड़गाम- बारामुला, साउथ कश्मीर में बड़गाम- श्रीनगर-अनंतनाग -काजीगुंड से जम्मू के बनिहाल के बीच सभी ट्रेनें बंद हैं।
– रविवार को साउथ कश्मीर में रेलवे की प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाया गया।
– रेलवे अफसर ने बताया कि हड़ताल के कारण सर्विस ठप की गई है।
कश्मीर में क्यों हो रही है हिंसा, क्या हैं ताजा हालात?
– हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी को सिक्युरिटी फोर्सेज ने शुक्रवार को एनकाउंटर में मार गिराया था।
– आतंकी के मारे जाने के बाद साउथ कश्मीर में उसके सपोर्ट में वहां के लोगों ने प्रदर्शन किया।
– शुक्रवार से लगातार विरोध जारी है। इन प्रदर्शन में 20 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं।
– शनिवार से अमरनाथ यात्रा प्रभावित है। जम्मू के बेस कैंप में 5 हजार से ज्यादा श्रद्धालु फंसे हैं।
15 की उम्र में आतंकी बना था बुरहान
– 22 साल का बुरहान 15 साल की उम्र में आतंकी बना था। पिछले कुछ महीनों से बुरहान साउथ कश्मीर में बहुत एक्टिव था। उसने यहां के कई पढ़े-लिखे यूथ्स को बरगला कर आतंकी बनाया था।
– कश्मीरी यूथ को रिक्रूट करने के लिए वह फेसबुक-वॉट्सऐप पर वीडियो और फोटो पोस्ट करता था।
– इनमें वो हथियारों के साथ सिक्युरिटी फोर्सेस का मजाक उड़ाते हुए नजर आता था।
– वानी को भड़काऊ स्पीच देने और सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने में एक्सपर्ट माना जाता था।
कहां हो रही है हिंसा ?
– कुलगाम जिले में प्रदर्शन के दौरान गोली लगने से घायल हुई लड़की यास्मीन की दे रात एसएमएचएस अस्पताल में मौत हो गई।
– उसे डीएचपुरा में प्रदर्शन के दौरान सिक्युरिटी फोर्सेज की कार्रवाई में गोली लगी थी।
– शोपियां के जैनपुरा में पिछली रात प्रदर्शन के दौरान सिक्युरिटी फोर्सेज ने गोलियां चलाईं, जिसमें एक किशोर आसिफ की मौत हो गई।
महबूबा ने की शांति की अपील
– जम्मू-कश्मीर सरकार ने ताजा हालात को लेकर बैठक की।
– चीफ मिनिस्टर महबूबा मुफ्ती ने घाटी में हालात नॉर्मल करने के लिए अभिभावकों, अलगाववादी संगठनों तथा राजनीतिक पार्टियों से अपील की है।
– इधर, नेशनल कांफ्रेंस तथा कुछ अलगाववादी संगठनों ने भी सोमवार को लोगों ने अपील की है कि वे विरोध में संयम बरतें।
Share With:
Rate This Article